Mud Therapy Ke Fayde : क्‍या आप मड थैरेपी के इन अनोखे फायदों के बारे में जानते थे?

Please follow and like us:
0
20
Pin Share20

Mud Therapy Ke Fayde : क्‍या आप मड थैरेपी के इन अनोखे फायदों के बारे में जानते थे?

Mud Therapy Ke Fayde

क्‍या आप जानते हैं कि बरसों पुरानी एक विशेष थेरेपी है जिसे मड थैरेपी ( Mud Therapy Ke Fayde)  के नाम से जाना जाता है। आसान शब्‍दों में इसका मतलब है कि मिट्टी से शरीर पर लेप।

इससे त्‍वचा सुंदर तो बनी ही रहती है और साथ ही यह तनाव को दूर कर आंखों की रोशनी भी बनाए रखती है।

दरअसल धरती में अनेकों प्रकार के खनिज तत्‍व और पोषक तत्‍व पाये जाते हैं। ये पोषक तत्‍व केवल धरती पर मौजूद मिट्टी में ही पाये जाते हैं।

अपनी इन्‍हीं खासियतों के कारण मड थैरेपी बिना किसी साइड इफैक्‍ट के बीमारी की जड़ तक पहुँचकर उसे खत्‍म करके आपको आराम देती है।

Also Read:  Why Is Omron Mc 246 Digital Thermometer Considered The Best? Review and Guide


मड थैरेपी कैसे काम करती है? How Does Mud Therapy Work || Mud Therapy kaise kaam karti hai?


हमारा शरीर पंचतत्‍वों से मिलकर बना है- अग्नि, वायु, पृथ्‍वी, आकाश, और जल। जिन तत्‍वों, धातुओं और अधातुओं से पृथ्‍वी बनी है, उन्‍हीं तत्‍वों से हमारा शरीर भी निर्मित है।

धरती में मौजूद खनिज पदार्थ और पोषक तत्‍वों का समागम शरीर के लिये अत्‍यंत कारगर है। और इसी कारण से मिट्टी शरीर के कई असाध्‍य रोगों के इलाज के काम में ली जाती है। Mud Therapy Ke Fayde निम्‍नलिखित हैं।

1. वेद, उपनिषद और मड थैरेपी

आयुर्वेद के अनुसार, पंचभौतिक तत्‍वों से निर्मित शरीर के लिये पृथ्‍वी तत्‍व का अत्‍यंत महत्‍व है। आयुर्वेद में पार्थिव तत्‍व की पूर्ति के लिये मृतिका यानि की मिट्टी की चिकित्‍सा का विशेष प्रबन्‍ध है।

स्‍वस्‍थ रहने के लिये शरीर में पार्थिव तत्‍व की अत्‍यंत आवश्‍यकता होती है। इससे हड्डियों, मांसपेशियों और त्‍वचा आदि का निर्माण होता है।

इसमें आने वाली शरीर में विकृतियों को ठीक करने के लिये मिट्टी चिकित्‍सा यानी मड थैरेपी अत्‍यंत आवश्‍यक होती है। मृतिका चिकित्‍सा का वर्णन वेदों और उपनिषदों में भी है।

आयुर्वेद में स्‍वस्‍थवृत के अंतर्गत इस पंचभौतिक विधा का उपयोग रोगियो को स्‍वस्‍थ रखने के लिये किया जाता है।



2. मड थैरेपी और पाचन

पेट पर मिट्टी का लेप लगाने से शरीर के विषैले तत्‍व बाहर निकल जाते हैं। इससे पाचन क्रिया दुरूस्‍त हो जाती है।

पेट पर मिट्टी का लेप करने से यह शरीर को अंदर से ठण्‍डा रखती है जिससे सरदर्द, हीटस्‍ट्रोक और बुखार में आराम मिलता है।

Also Read: Fitkit FK600 Best Affordable Airbike For Home

3. तनाव मुक्ति और मड थैरेपी

चूंकि मिट्टी की तासीर ठण्‍डी होती है, तो यह थैरेपी नर्वस सिस्‍टम से जुड़े कई रोगों, जैसे तनाव, अनिद्रा, गहन चिंता, अवसाद आदि से मुक्ति दिलाने काफी असरदार है।

4. आंखों के लिये मड थैरेपी के फायदे

आजकल एक बात तो सामान्‍य है कि हम सभी की निगाहें स्‍क्रीन से ही लगी रहती हैं। ऐसे में इलेक्‍ट्रॅानिक डिवाइसेज से निकलने वाली हानिकारक ब्‍लू रेज के रेडिएशन के संपर्क में ही रहती हैं।

ऐसे में मड थेरेपी काफी कारगर है। आपने अपने घर के बड़े बुजुर्गों के मुँह से यह तो सुना ही होगा कि मिट्टी पर नंगे पैर चलने से या आंखों के आसपास मिट्टी का लेप लगाने से आंखें स्‍वस्‍थ रहती हैं और उनकी रोशनी बढ़ती है।


money plant


5. चमकती त्‍वचा का राज है मड थेरेपी

इस थैरेपी से सबसे बड़ा फायदा आपकी त्‍वचा को ही होता है। मिट्टी के लेप से जहां स्किन डिटॉक्सिफाई होती है वहीं इससे पित्‍त के प्रभाव को भी कम किया जा सकता है।

इससे कील और मुँहासे खत्‍म होते हैं। त्‍वचा में नैचुरल चमक आ जाती है। वैसे भी आजकल फेसपैक में मुल्‍तानी मिट्टी का उपयोग होता ही है।

Please follow and like us:
0
20
Pin Share20

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *